प्रोद्यौगिकी एवं व्यापार विकास

  • kisanmela
  • photo3
  • photo2
  • किसान मेला-२०१४
  • पौधसामग्री वितरण@ किसान मेला
प्रोद्यौगिकी एवं व्यापार विकास

प्रौधोगिकी एवं व्यापार विकास विभाग,सीमैप,लखनऊ का मुख्य लक्ष्य औषधीय एवं सगंध पौधो से सम्बंद् प्रौधोगिकी को समाज से जोडना है। विभाग की सामाजिक सशक्तीकरण की मुख्य गतिविधियों में औषधीय एवं सगंध पौधो की खेती एवं प्रसंस्करण आदि का सर्वेक्षण, बृहत प्रचार-प्रसार करना, तकनीकी सेवाऐं तथा उधमिता के लिए प्रौधोगिकी लाइसेंस करना, मेप्स पौधो का प्रर्दशनं, आन-फार्म आर्थिकी का आंकलन करना और उन्नत प्रजाति एवं प्रौधोगिकी को अपनाने का अध्ययन करना है।

 विभाग मुख्यत: मिन्ट लेमनग्रास, सिट्रोनेला ,पामारोशा, खस,जिरेनियम, अश्वगंधा, सतावर तथा आर्टीमिनिया अन्नुआ इत्यादि की उन्नत प्रजाति का बृहत प्रचार करना। सीमैप द्वारा विकसित हर्बल फामुलेशन, आसवन र्इकार्इ तथा आर्टीमिसिन का प्रसंस्करण आदि के तकनीकी हस्तांन्तरण के अतिरिक्त औषधीय एवं सगंध पौधो के कृषि प्रौधोगिकी को हजारो हजारो किसानों तक पहुंचाकर उनके सामाजिक आर्थिक स्तर को बढाना है।